Monday, March 8, 2010

Bahaaron ko Chaman

Song : Bahaaron ko
Lyrics :
Singer: Ghulam Ali
Language : Urdu


बहारों को चमन याद आ गया है
मुझॆ वॊ गुल बदन् आ गया है

लचकती शाख ने जब सर उठाया
किसी का बाँकपन याद आ गया है

तॆरी सूरत कॊ जब दॆखा है मैंनॆ
उरूजॆ फ़िक्रोफ़न् याद आ गया है

मिले वॊ अजनबी बनकर तो रफ़त
ज़मानॆ का चलन याद आ गया है

1 comment:

மோடுமுட்டி said...

pls post Mehdi Hassan sahib's Ranjish Hai Sahi...